ips kya hota hai ips का फुल from क्या होता है 

ips kya hota hai ips का फुल from क्या होता है 

ips kya hota hai  आपने आईपीएस का नाम कहीं ना कहीं जरूर सुना होगा और आपके मन में यह सवाल जरूर आया होगा कि आईपीएस कौन होता है और आईपीएस कैसे बनते हैं और आईपीएस की सैलरी कितनी होती है और आईपीएस ऑफिसर के पास कितना पावर होता है और डीएम बढ़ा देता है या आईपीएस ऑफिसर बढ़ा होता है अगर आपके मन में सारे सवाल है और आप इन सवालों का उत्तर जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को लास्ट तक पड़े क्योंकि हम हमारे इस आर्टिकल में आपको इन सब के बारे में विस्तार से बताएंगे

आज के समय में आईपीएस ऑफिसर बनना हर स्टूडेंट का सपना होता है क्योंकि आईपीएस ऑफिसर एक बहुत बड़ी पोस्ट होती है और इसको केवल कड़ी मेहनत के द्वारा ही हासिल किया जा सकता है बहुत सारे लोग होते हैं जो इसमें सफलता पा लेते हैं आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए आपको कुछ ज्यादा चीजों की जरूरत नहीं होती बस आपको कुछ बेसिक सी फॉर्मेलिटी होती है लेकिन इसका एग्जाम आप दे सकते हैं लेकिन एग्जाम पास करने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होती है

 आईपीएस का फुल फॉर्म kya  होता है

आईपीएस का फुल फॉर्म होता है इंडियन पुलिस सर्विस indian police service 

आईपीएस ऑफिसर बनना काफी कठिन होता है इसके लिए आपको फिजिकल टेस्ट और आपको कईएग्जाम देने होते हैं और इसके अलावा भी आपको कई सारे टेस्ट क्लियर करने पड़ते हैं इसके बाद आपकी पोस्टिंग आईपीएस ऑफिसर में की जाती है

आईपीएस ऑफिसर एग्जाम के लिए योग्यता

  • आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए आपकी उम्र कम से कम 21 बर्ष होनी चाहिए और ज्यादा से ज्यादा यह 35 बर्ष की गई है लेकिन यह हर बर्ग के लिए अलग-अलग है जैसे कि एससी और एसटी के कैंडिडेट के लिए इसमें 5 साल की छूट मिलती है यानी कि इनके लिए इन्हे 35 साल की गई है वहीं ओबीसी के लिए इसकी उम्र  32 साल है और जनरल के लिए इसकी उम्र 30 साल की गई
  •  शैक्षणिक योग्यता की बात करें तो आपके पास किसी भी सरकारी कॉलेज से मान्यता प्राप्त कॉलेज से डिग्री होना चाहिए
  •  आईपीएस यानी कि यूपीएससी का एग्जाम इंडिया नेपाल और भूटान के लोग भी दे सकते हैं
  • आईपीएस बनने के लिए शाररिक योग्यता
  • शाररिक योगिता की बात करें तो जनरल कैटेगरी के लिए इसमें 165 सेंटीमीटर हाइट होनी चाहिए और ओबीसी एससी केटेगरी के लिए इसमें कम से कम 160 सेंटीमीटर हाइट होनी चाहिए और आपकी छाती  यानी कि चेस्ट का साइज 64 सेंटीमीटर होना

 ips ऑफिसर बनने के लिए फुल जानकारी

एक ips ऑफिसर बनने के लिए आपको सबसे पहले 12वीं की परीक्षा पास करनी होती है और इसमें विषय का कोई महत्व नहीं दिया गया है आप अपनी इच्छा अनुसार किसी भी विषय से 12वीं पास कर सकते हैं बाह चाहे साइंस हो या फिर arts या फिर कॉमर्स हो

  1. जब आप 12वीं पास कर लेते हैं तो इसके बाद आपको ग्रेजुएशन कंप्लीट करनी होती है और ग्रेजुएशन कंप्लीट आपको किसी भी सरकारी मान्यता प्राप्त कॉलेज से करनी होती है और आईपीएस एग्जाम देने के लिए आपको यह करना सबसे ज्यादा जरूरी होता है
  •  जब आप ग्रेजुएशन कंप्लीट कर लेते हैं तो इसके बाद आपको फाइनल ईयर मैं भी आप upsc के आईएएस आईपीएस आईएएस जैसे एग्जाम दे देते हैं और इन सब एग्जाम के लिए आपको यूपीएससी का एग्जाम देना होता है और यूपीएससी का एग्जाम भारत में सबसे कठिन एग्जाम होता है
  • इस एग्जाम के लिए अप्लाई करने के बाद आपको 3 मैन के एग्जाम क्लियर करना होता है और इन एग्जाम में सबसे पहला आता है the preliminary exam दूसरे नंबर पर आता है man exam लास्ट एग्जाम आता है इंटरव्यू यह सब क्लियर करने के बाद आपको ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है तब जाकर आप आईपीएस ऑफिसर बनते हैं

आईएएस क्या होता है इन हिंदी?

आईएस वो होते हैं जो यूपीएससी सिविल सेवा में टॉप रैंक हासिल करते हैं उन्हें उम्मीदवार को आईएस बनाया जाता है और आईएएस अधिकारी का काम होता है कि वह संसद में बनने वाले किसी भी कानून को जिसे हम बिल भी कहते हैं उसको अपने क्षेत्र में लागू करना होता है और इन कानून को लागू करने में आईएएस ऑफिसर की अहम भूमिका होती है

आईएएस और आईपीएस में कौन बड़ा है?

आईएएस और आईपीएस में कौन बड़ा होता है तो दोनों ही एक पावरफुल पोस्ट पर तैनात होते हैं परंतु आईएएस एक डीएम के रूप में काफी ज्यादा पावरफुल होता है जबकि आईपीएस के पास केवल अपने ही विभाग की पावर होता है और आईपीएस एक पुलिस अधिकारी होता है और आईएस डिस्टिक लेवल पर डीएम हो सकता है

आईएएस का वेतन कितना है?

आईपीएस के वेतन की बात की जाए तो आईपीएस का वेतन ₹56000 कम से कम होता है और ज्यादा से ज्यादा ढाई लाख रुपए प्रति महीने दिया जाता है

आईपीएस का क्या काम होता है?

आईपीएस के काम की बात की जाए तो आईपीएस का काम होता है जिले में अपराध को रोकना और जिले में कानून व्यवस्था को सही ढंग से लागू करवाना और जिले को एक सुचारू ढंग से जिले में संविधान को लागू करना

आईएएस और आईपीएस में क्या अंतर है?

आईएएस और आईपीएस में अंतर की बात करें तो ias जो होते हैं वह कलेक्टर होता है और ias में एसडीएम और डीएम होते हैं आईपीएस से ऊपर की पोस्ट होते हैं जिले में एक ही ias होता है जो डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट होता है लेकिन आईपीएस की बात करें तो इसमें आई जी डीजीपी आदि होते हैं

आईपीएस ऑफिसर कौन है?

आईपीएस ऑफिसर की बात करें तो बाह राज्य और केंद्र शासित प्रदेश में पुलिस बल का नेतृत्व करते हैं और इनका उद्देश होता है कि क्षेत्र में सेना की तैनाती की स्थिति में इन्हें भारतीय सेना के साथ भी काम करना पड़ सकता है और आईपीएस ऑफिसर पुलिस में काफी बड़ी पोस्ट होती है  इनकी तुलना कई बार कलेक्टर से भी की जाती है

ips kya hota hai आर्टिकल कैसे लगा 

दोस्तों हमने हमारे इस आर्टिकल ips kya hota hai में आपको बताया है कि आईपीएस ऑफिसर क्या होता है और आईपीएस ऑफिसर के पास क्या-क्या पावर होता है अगर आपको हमारे द्वारा लिखा आर्टिकल अच्छा लगता है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको हमारे द्वारा लिखा आर्टिकल कैसा लगा धन्यवाद

Leave a Comment